गिलोय के फायदे : आयुर्वेद में Immunity बढ़ाने का रामबाण तरीके रोगों को करे दूर

Rate this post

गिलोय को आयुर्वेद के भीतर मुख्य जड़ी-बूटियों में से एक माना जाता है। इसका उपयोग विभिन्न प्रकार के रोगों के उपचार में किया जाता है। गिलोय को ‘अमृत’ के समान माना जाता है यह कहा जाता है कि पौराणिक समय में, गिलोय ने देवताओं को युवा और स्वस्थ रखने में मदद की। आइए जानते हैं इसके फायदों के बारे में …
गिलोय के लगातार सेवन से आप वायरस की चपेट में आने पर भी अपनी रक्षा कर सकते हैं। गिलोय ग्रामीण क्षेत्रों में आसानी से मिल जाती है। आपको बस आपको पहचानने आना चाहिए, इसके डंठल को काटने के बाद, स्टेम की ऊपरी परत को छील कर हटा दें। 
गिलोय के फायदे : आयुर्वेद मे Immunity बढ़ाने का रामबाण तरीके रोगों को करे दूर
गिलोय के फायदे 

गिलोय का काढ़ा कैसे बनाये?

फिर इसे पानी से गर्म करें। जब पानी का रंग हरा हो जाता है। तो इसे छलनी से छानें इसके बाद में इसका सेवन करें। गिलोय का कड़वा स्वाद होता है। लेकिन पेट से जाने के बाद यह आपको काफी चुस्त और फुर्तीला कर देता है।

गिलोय के फायदे और नुकसान इन हिंदी


  • पाचन क्रिया मे

गिलोय को पाचन तंत्र के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। आंवले के साथ इसका चूर्ण अक्सर लें, यह पाचन को बढ़ाता है। आप गिलोय का रस छाछ के साथ भी ले सकते हैं। यह अपच से राहत दिलाता है।

  • मधुमेह के रोगियों

गिलोय मधुमेह में काफी शक्तिशाली माना जाता है। मधुमेह के रोगियों को अपने रक्त शर्करा (रक्त शर्करा) के स्तर को कम करने के लिए गिलोय का रस पीने की आवश्यकता होती है।

  • गठिया में आराम 

गिलोय के उपयोग से arthritis में राहत मिलती है। अगर आप arthritis से पीड़ित हैं तो आपको [Giloy] गिलोय का सेवन करना चाहिए।

  • गिलोय आंखों के लिए भी फायदेमंद 

गिलोय आंखों के लिए भी फायदेमंद हो सकता है यह उनकी आंखों की रोशनी को बढ़ाने में मदद करता है। क्या आपको गिलोय का जूस नियमित रूप से पीना चाहिए, आपको अवश्य लाभ होगा कुछ लोग गिलोय को सादे पानी में उबालते हैं, इसे ठंडा करते हैं और फिर इसका उपयोग पलकों पर करते हैं।

  • प्रतिरक्षा बढ़ाने में फायदेमंद 

गिलोय में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो स्वास्थ्य में सुधार करता है और रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान करता है। इसके लिए, न केवल आप कोरोना वायरस पर विजय प्राप्त करने में सक्षम हैं, बल्कि विभिन्न रोगों के भी बहुत सारे हैं।

Disclaimer: संबंधित लेख पाठक की जानकारी और चेतना बढ़ाने के लिए तैयार किया गया है। लेख में दी गई जानकारी और डेटा के लिए कोई दावा नहीं करता है या कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है। ऊपर वर्णित लेख में संबंधित संबंधित बीमारी के बारे में अधिक जानने के लिए अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

Please Share:

मैं Rjsh इस वेबसाइट baliapur.com का Founder हूँ। इस साइट के जरिए लोगों तक Blogging, Online Earning, Android, Tips & Tricks, Tech की जानकारी और मनोरंजक Content आपके साथ Share करते हैं। धन्यवाद!!!

Leave a Comment