पैरों और हाथों में झुनझुनी क्यों होता है? जानिए इसके कारण और इससे बचने के उपाय

पैरों और हाथों में झुनझुनी क्यों होता है?

अगर आपके हाथ-पैर में भी झुनझुनी की समस्या हो रही है, तो ज्यादा चिंता न करें, यह कोई गंभीर बीमारी नहीं है। जी हां कई बार ग्लूकोज और ब्लड प्रेशर के बढ़ने के कारण भी यह समस्या हो सकती है। इसलिए अपना हमेशा चेकअप कराते रहें। आज आपको इसके कारण, लक्षण और बचाव के बारे में बताएँगे।


कई बार लोगों को पैर और हाथ में झुनझुनी महसूस होने लगती है। जिसकी वजह से पैर सो जाते हैं या कुछ समय के लिए मौजूद ना होने का एहसास होता है। हालांकि यह कोई गंभीर और बड़ी समस्या नहीं है, लेकिन मेडिसिन में इसे पैरेस्थेसिया कहते हैं। इसका प्रभाव शरीर के कुछ हिस्सों जैसे पैरों, उंगलियों, हथेलियों और तलवों में होता है। क्या इसके पीछे कोई बड़ी वजह है? आइये आपको बताते है .....


पैर और हाथ में झुनझुनी होने का कारण 

  • आपके सिस्टम को काफी देर तक एक ही अवस्था में रखने से कई बार ऐसा हो सकता है।
  • कमर या गर्दन में किसी प्रकार की चोट के कारण
  • अर्थराइटिस से भी हो सकती है समस्या
  • शरीर में कैल्शियम और पोटेशियम की कमी
  • यह एक दवा के कारण भी होता है।
  • यह शरीर में नसों पर अत्यधिक प्रभाव के कारण भी हो सकता है।
  • यह धूम्रपान और बहुत अधिक शराब पीने से भी होता है।
  • यह कीमोथेरेपी के दौरान भी हो सकता है

पैर और हाथ में झुनझुनी होने का कारण

कभी-कभी माइग्रेन, मधुमेह, मधुमेह, मिर्गी, थायराइड या स्ट्रोक के कारण हाथ-पैरों में झुनझुनी की समस्या महसूस हो सकती है।


हथेलियों और पैरों में झुनझुनी के लक्षण

हथेलियों और पैरों में झुनझुनी होने पर आपको चुभन जैसे महसूस होगी। आपका शरीर का कोई भी अंग सुन्न हो जाएगा। आपके सिस्टम में कमजोरी और थकावट महसूस होगी। शरीर ठंडा हो सकता है। इसके साथ ही इसका मुख्य लक्षण पैरों और हाथों में झुनझुनी होना है।


हाथ-पांव में झुनझुनी का उपाय

पहले आपको यह पता लगाना होगा कि आपके पैरों और हाथों में झुनझुनी का कारण क्या है। यदि मानव शरीर में किसी विटामिन की कमी के कारण ऐसा हो रहा है तो आपको डॉक्टर की सलाह पर पोषक तत्वों की खुराक लेने की जरूरत है। 


चाहे यह चुनौती किसी संक्रमण के कारण हो, तो आपको तुरंत डॉक्टर की सलाह लेने की आवश्यकता है। अगर आपको यह किसी दवा से हो रहा है तो भी डॉक्टर को बताएं। अपना ग्लूकोज लेवल और ब्लड प्रेशर भी चेक करवाएं। अपनी स्थिति और दिनचर्या पर भी ध्यान दें। नियमित रूप से योग और व्यायाम करें।


हाथ-पैर सुन्न होने के घरेलू उपाय


हाथ-पैर सुन्न होने के घरेलू उपाय

  • मालिश से रक्त प्रवाह में वृद्धि

हाथों या पैरों में सुन्नता होने पर मालिश इस समस्या से निपटने का सबसे आसान घरेलू तरीका है। यह रक्त प्रवाह को बढ़ाता है, जिससे सुन्नता में कमी आती है। इसके अलावा, यह मांसपेशियों और तंत्रिकाओं को उत्तेजित करके उसके कार्य को बढ़ाता है। अपनी हाँथ में गर्म सरसों के तेल, नारियल या जैतून का तेल लगाकर 5 मिनट के लिए मालिश करें  यदि आवश्यक हो तो इस उपाय को दोहराएं।


  • हल्दी

हल्दी में मौजूद गुण प्रभावित क्षेत्र में दर्द और परेशानी को कम करने में मदद करेंगे। आप एक गिलास दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर हल्की आंच पर पकाएं। फिर इसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर दिन में एक बार पीने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। प्रभवित जगह पर इसका पेस्ट बनाकर भी लगा सकते है।


  • दालचीनी 

आधा चम्मच दालचीनी का पाउडर और एक चम्मच शहद का मिलकर इसे तैयार कर लें।फिर आधा चम्मच इसका सेवन करें।


  • हेल्दी लाइफस्टाइल 

प्रत्येक दिन एक्सरसाइज करें। एक्सरसाइज, ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने में मददगार हो सकती है। इससे खून के बहाव से होने वाली सुन्नपन (झुनझुनाहट )की समस्या से बचा जा सकता है।


इस जानकारी की सटीकता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर संभव प्रयास किया गया है हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।